Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi: बुरे नक्षत्र होने के बावजूद कब मनाये रक्षाबंधन

Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi: रक्षा बंधन का शुभ मुहूरत कब है? इस साल रक्षाबंधन मानाने के लिए आप लोगों का थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि इस साल का रक्षाबंधन एक दिन नहीं बल्कि दो-दो दिन मनाया जाने वाला है। क्योंकि इस साल कुछ अशुभ महूर्तो का छाय रक्षाबंधन पर पड़ गया है। इसके कारन इस साल के रक्षाबंधन के लिए आपको ज्यादा इंतजार करने होगा। इसलिए इस साल का रक्षाबंधन 2 दिन मनाया जा रहे हैं।

लेकिन इन दो दिनों में कुछ ही ऐसे मुहरत हैं जो शुभ है और पंचांगों के अनुसार आपको उसी मुहरत में अपने भाई को राखी या रक्षा सूत्र बांधिएगा अन्यथा उनके ऊपर खतरा या ग्रहण पद सकता है। तो अगर आप रक्षाबंधन के शुभ मुहरत से जुड़ी सारी जानकारी लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पूरा पढ़िएगा।

Table of Contents

रक्षाबंधन क्यों है इतना खासRaksha Bandhan Shubh Muhurat Kab Hai

Raksha Bandhan Shubh Muhurat Kab Hai: सबसे बड़ा प्रसन, रक्षा बंधन का शुभ मुहूरत कब है? आप सभी लोगो को तो भली भांति पता ही होगा कि रक्षाबंधन का त्यौहार भाई और बहन के प्रेम का प्रतीक है। इस त्यौहार को भाई और बहन बहुत ही श्रद्धा पूर्वक मानते हैं। और एक दूसरे के सलामती की दुआ करते हैं तथा भाई अपनी बहन को उसके रक्षा का वादा करता है।

लेकिन इस साल का रक्षाबंधन में कुछ अशुभ मुहूर्त के कारण 2 दिन मनाया जा रहे हैं लेकिन पुरे दो दिन सुबह मुहरत नहीं हैं। तो कौन सा अशुभ मुहूर्त है और कौन सा शुभ मुहरत है, चलिए हम आपको बताते हैं।

रक्षाबंधन क्यों है इतना खास: Read Here

क्यों इतनी देर से मनाया जायेगा यह रक्षाबंधन – Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi

Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi: रक्षा बंधन का शुभ मुहूरत कब है? आप लोग को तो पता ही होगा कि इस साल का फिर से खरमास लगने के कारण इस साल का सावन 2 महीने का हो गया है। अब आपमें से बहुत सारे लोगो के मन में प्रश्न होगा की खरमास क्या होता है। देखिये सद्गुरु कहतें हैं की सूर्य को हर राशि में एक माह बिताना होता है। तो जिस भी महीने में सूर्य धनु राशि में आता है, तो वह महीना खरमास कहलाता है। खरमास महीना आत्मिक जागरण के लिए उत्तम मन जाता है लेकिन इस महीने में कोई भी सूर्य कार्य करना उचित नहीं माना जाता है।

और तो और खरमास जिस भी महीने में पड़ता है उतने दिन उस महीने में जुड़ जातें हैं और उतने दिनों को उसी महीने का हिस्सा माना जाता है। अब जब महीना 60 दिनों का होगा तो उसमे दो पूर्णिमा और दो अमावस्या भी आएगा। अब दो पूर्णिमा यानि की दो दिनों का रक्षाबंधन। और 60 दिनों का महीना होने कारण ही जो रक्षाबंधन को दो या तीन अगस्त को हो जाना चाहिए था, वह 30 अगस्त को तथा 31 अगस्त को मनाया जाएगा। लेकिन क्या यह रक्षा बंधन 2 दिन का होने वाला है?

क्यों दो दिनों का होने वाला है रक्षाबंधनRaksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi

Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi: यह रक्षाबंधन यूं ही दो दिन का नहीं है। बल्कि इस साल एक बहुत ही खराब घड़ी आन पड़ी हैं। आपके मन में संकोच हो रहा होगा की ऐसी कौन सी ख़राब घडी आन पड़ी है। तो आप चिंता मत करिये मैं आपको सबकुछ बताने वाला हूँ।

2023 के रक्षाबंधन में किसी अशुभ नक्षत्र का साया पड़ा है। वह अशुभ नक्षत्र भद्र काल है। यह नक्षत्र को इतना अशुभ माना जाता है की इस नक्षत्र में कोई भी शुभ काम नहीं किया जा सकता है। ग्रह प्रवेश, मुंडन, शादी-विवाह या कोई भी खुशी वाला कार्य, इस नक्षत्र में भूल कर भी नही करना चाहिए। यदि कोई भी शुभ कार्य इस नक्षत्र में पड़ रहा है तो उसे कुछ दिन के लिए टाल दिया जाना चाहिए। और इस साल के रक्षाबंधन में इसी नक्षत्र ने अपना साया डाला हुआ है।

बुरे नक्षत्र होने के बावजूद पंडितों-ज्ञानियों ने खोज निकाला शुभ मुहूरतRaksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023

Raksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023: लेकिन फिर भी इस नक्षत्र को काटते हुए कुछ ज्ञानी और पंडितों की माने तो रक्षाबंधन मनाया जा सकता है। लेकिन इस के लिए कुछ एक समय को बहुत ही शुभ माना गया है। ऐसे तो दो दिन रक्षाबंधन मनाया जा सकता है। लेकिन फिर भी उनमें में कुछ टाइम है इसके अनुरूप रक्षाबंधन मानाने के लिए बहुत ही बढ़िया मुहूर्त है। तो आईए जानते हैं वह कौन सा टाइम है और मुहूर्त है |

इस साल खरमास लगने के कारण 2 महीने का सावन हो गया। तो मुझे उम्मीद है की आप लोग को भली-भांति पता ही होगा की इस साल का सावन का पूर्णिमा किस दिन हैं। इस साल भाई-बहन के पवित्र त्यौहार के रूप रक्षाबंधन को हमलोग 30 अगस्त और 31 अगस्त दो दिन मनाएंगे और इसी दिन बहन अपने भाई के कलाई पर राखी बांधकर भाई के लंबी आयु का की प्रार्थना करेंगी।

रक्षाबंधन मनाने के लिए कौन सी है शुभ मुहूर्तRaksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023

Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi
Raksha Bandhan Shubh Muhurat 2023 in Hindi

Raksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023: सबसे बड़ा प्रसन, रक्षा बंधन का शुभ मुहूरत कब है? इस साल के रक्षाबंधन बुधवार 30 अगस्त से लेकर वृहस्पतिवार 31 अगस्त तक मान्य है। लेकिन कुछ अशुभ घड़ियों के कारण इस पर समय का प्रतिबंध लगा हुआ है जिसमे रक्षाबंधन नहीं मनाया जा सकता है। और वो टाइम है 30 अगस्त के रात 10:58 बजे से पहले तथा 31 अगस्त के सुबह 07: 05 बजे के बाद।

Raksha Bandhan Shubh Muhurat Kab Hai: यानी की आप रक्षाबंधन ३० अगस्त के रात्रि 10:58 से लेकर अगले दिन 31 अगस्त के सुबह 07:05 बजे तक मन सकते है। तो उम्मीद है की इसी टाइम पे हमलोग सब मिल कर रक्षाबंधन के पवित्र तोहार को मनाएंगे।

अगर हम इसका (Raksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023) पालन न करे, तो क्या होगा?

अगर हम इन बातो (Raksha Bandhan Shubh Muhurat Time 2023) का ध्यान नहीं देते हैं और ऐसे ही किसी भी समय रक्षाबंधन माना लेते हैं तो क्या होगा। तो इसका भी जवाब हम आपको देने वाले हैं। देखिये अगर आप इन चीजों का ध्यान नहीं रखतें हैं और किसी भी समय रक्षाबंधन माना लेते हैं तो उसके गलत ही परिणाम हो सकतें हैं। और आप जिनके लम्बे उम्र की कामना करते हुए यह त्योहार माना रहें हैं उनके ऊपर कोई संकट आन पड़े। या ये भी हो सकता है की आपको कुछ न हो।

देखिये कुछ ऐसे संकट भीं होते हैं जिन्हे आप देख नहीं सकते हैं। जैसे आपके ग्रह आपके खिलाफ हो जाएँ जिससे आपका कोई भी शुभ कार्य सूफल न हो। या उनके आंतरिक स्वस्थ्य को नुकसान पहुँच सकता है। देखिये क्या हो क्या न हो ये तो ईश्वर पर निर्भर करता है। हमारा कार्य है भगवन के आदेशों का पालन करना। तो हमें वही करना चाहिए।


kikahani

Leave a Comment