Bhojpuri Chhath Geet: बिहार के लोगों को घर बुलाना है तो उनको bhojpuri chhath geet सुना दीजिये

Bhojpuri Chhath Geet: सीतलि बियारिया सीतल दूजे पनिया, कब देव देवता तू आंके दार्शनियाँ, जैसे ही ये पंक्तियाँ कानो में जाती हैं तब पूरा मन तृप्त हो जाता है। कहा जाता है की अगर किसी युपी-बिहार के लोगों को घर बुलाना है तो उनको सिर्फ भोजपुरी छठ गीत (bhojpuri chhath geet) सुना दीजिये वो भागे चले आएंगे।

अब आप अगर इस आर्टिकल को पढ़ रहें हैं इसका मतलब आप अच्छे अच्छे छठ गीत खोज रहें हैं। तो चिंता मत करिये आज हम आपको एकदम भोजपुरी छठ गीत (Bhojpuri Chhath Geet) का लिस्ट देने वाले हैं। जिन गीतों को सुन कर आपका मन मिजाज दुरुश्त हो जायेगा।

Table of Contents

सबसे पहले तो आपको जानके हैरानी होगी की ये जो पंक्तियाँ आपने सुना वो भोजपुरी छठ गीत नहीं हैं बल्कि छठ के गाने हैं। अब आपमें से बहुत्त सारे लोग कहेंगे की छठ के गाने और गीत में क्या अंतर होता है।

Chhath Geet vs Chhath Song

Bhojpuri Chhath Puja Geet: देखिये गीत पारम्परिक विधि है अगर आपके घर में कोई शुभ कार्य होता है तो उस ख़ुशी को व्यक्त करने तथा अपने देवी-देवता के प्रति अपना भक्ति व्यक्त करने का। लेकिन जो गाने होते है वो उन्ही गीत से प्रेरित होते हैं और कुछ चीजों को नए सिरे से जोड़ कर उन्हें दिलचस्प बनाया जाता है।

लेकिन जो गीत होता है वो वर्षों से एक ही तरह से और उनकी एक ही पंक्तियाँ होती हैं जिन्हे गया जाता है। और गीत को सीखने का एक अलग ही तरीका होता है जैसे आपके दादी या नानी से भोजपुरी छठ गीत आपकी माताजी सीखी होंगी और उनसे आप या आपकी बहने सीखी होंगी

कहा जाता है की छठ पूजा सिर्फ एक त्यौहार ही नहीं बल्कि एक भावना है। जब घर में छठ होता है तो दूर-दूर से रिश्तेदार आते हैं और फिर साथ में बैठ के भोजपुरी छठ गीत (bhojpuri chhath puja geet) गातें हैं। हलकी हलकी ठण्ड में हमें आग की आवस्यकता नहीं होती है बल्कि छठ का माहौल ही ऐसा होता है की हमे उतना ठण्ड नहीं लगता है।

पांच गायक जिनके छठ गीत (bhojpuri chhath geet) आपको जरूर सुनना चाहिए

bhojpuri chhath geet
bhojpuri chhath geet

1. शारदा सिन्हा छठ गीत – sharda sinha chhath geet

Bhojpuri Chhath Puja Geeta: भोजपुरी गानों की लता मंगेसकर आहे जाने वाली श्रीमती शारदा सिन्हा के छठ गीत अगर आपने नहीं सुना तो क्या ही सुना। बिना उनके गीत के छठ फीका फिक्का लगता है। श्रीमती शारदा सिन्हा ने भोजपुरी गानों का जो अस्तर बनाया था उसके सामने एक समय पर बॉलीवुड भी फीका लगता था और उनके छठ के गानों के आगे तो कोई भी अवार्ड छोटा है।

चलिए जानते हैं शारदा सिन्हा के 5 सबसे बेहतरीन छठ के गीत। सबसे पहले आता है शारदा सिन्हा छठ गीत जिसका सीर्सक है ” पहिल पहिल छठी मईया “। अगर आप इस गीत को ईरफ़ोन लगा कर सुनेंगे तो आपको लगेगा की आपका रूह आपके शरीर को त्याग कर किसी दूसरे दुनिया में चला गया है।

शारदा सिन्हा के अन्य छठ गीत हैं ” केलवा के पटवा पर ” , ” हो दीनानाथ “, ” उठहु सुरुज भइले बिहान “, ” उगिहें सुरुज गोसइयां हे “, इत्यादि। शारदा जी के और भी कई सारे छठ के गीत हैं पर अगर आप इन गीतों को सुनेंगे तब आपको प्रोपर बिहारी परम्परा का अनुभव होगा।

3. अनुराधा पौदवाल छठ गीत – Anuradha Paudval chhath puja geet

Bhojpuri Chhath Geet: अगर आप बिहार से आतें हैं तब तो आपने ” कांच ही बांस के बहँगिया ” गीत को जरूर से जरूर सुना होगा। क्योंकि ये एक ऐसा छठ गीत है जिसे छठ के दौरान यु पी-बिहार के किसी भी घर में बजते हुए आप सुन सकते हैं। और इस गीत की गायिका श्रीमती अनुराधा पौदवाल को जैसे साक्षात् सूर्य देव का आशीर्वाद मिला है ऐसा प्रतीत होता है।

इनका स्वर आपके शरीर से रूह को अलग करने की क्षमता रखता है। इनके और भी बहुत सारे गीत हैं जैसे ” ऊगा हे सूरज देव “, “अरग के बेर “, ” मरबो रे सुग्वा धनुख से “, इत्यादि। और अगर आपने अनुराधा पौदवाल का छठ गीत अभी तक नहीं सुने हैं तो क्या ही सुने।

३. अनु दुबे छठ गीत – Anu Dubey Chhath Geet

Bhojpuri Chhath Geet: अनु दुबे का भी स्वर कोई कम नहीं है। जिस भक्ति भाव से ये भोजपुरी छठ पूजा गीत गातीं हैं उससे मन को जो सुकून मिलता है वो कल्पना से भी परे है। शायद आपने इनकी गीत ” सावा लाख के साडी भींजे ” सुना होगा। ये उतना पॉपुलर गायिका तो नहीं है पर इससे इनके गीत को आँका नहीं जा सकता है।

इनकी छठ पूजा गीत और भी हैं जैसे ” पेन्हि न बालम जी पिआरिया “, ” भरी हम कोशिया तोहार “, इत्यादि। इनकी गीतों में पारम्परिकता की झलक आपको देखने को मिलता है।

4. देवी छठ गीत – Devi Bhojpuri Chhath Geet

Bhojpuri Chhath Geet: 2011-12 एक समय था जब बिहार के हर घर में देवी के गीतों को पुरे परिवार संग सुना जाता था। पर जब से भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री में गंध फैला है तब से देवी कहीं गायब सी हो गयीं हैं। फिर भी आज भी इनकी कुछ गीतों को बड़े प्रेम से सुना जाता है।

इनकी कुछ छठ पूजा गीत ये हैं : चङनि ताने चालले, कॉपी कॉपी बोलेली, बहँगी छठ माई के जाय, जोड़े – जोड़े नरियर, मोरा भैया जायेला, इत्यादि।

5. पवन सिंह छठ गीत – Pawan Singh Chhath Geet

Bhojpuri Chhath Geet: भोजपुरी छठ पूजा गीत की बात हो और पवन सिंह का नाम न आये ऐसा हो सकता है। हालाँकि पवन सिंह का छठ पूजा गीत नहीं बल्कि गाने होते हैं। पर इनके गाने गीतों से कुछ ज्यादा ही प्रेरित होता है। इसीलिए मैंने इनका नाम भी जोड़ा है।

पवन सिंह के छठ के गाने जैसे की “जोड़े-जोड़े फलवा “, “जय छठी मईया “, “छठी मई के घटवा प आजन-बजन बजे ” इत्यादि आपने जरूर सुना होगा। और जय छठी मईया गीत तो पवन सिंह के साथ सोनू निगम भी गाये थे। तो ये थे पांच ऐसे कलाकार जिनके छठ के गीत आपके मन को मोहने की क्षमता रखती है।

पांच लोकप्रिय भोजपुरी छठ पूजा गीतBhojpuri chhath geet

bhojpuri chhath geet
bhojpuri chhath geet

ऊगा हे सूरज देव – Anuradha Paudval chhath puja geet

अनुराधा पौदवाल का ये गाना आपके पुरे मन को लुभाने की क्षमता रखता है और अगर आप अपने घर से दूर रहतें हैं तब आपके जले पर नमक रगड़ने का कार्य करता है। और ये भोजपुरी छठ पूजा गीत कुछ ऐसे गीतों में स है जिसे आप बिना सुने रह भी नहीं सकते।

कांच ही बांस के बहँगिया – Anuradha Paudval Bhojpuri chhath puja geet

अनुराधा पौदवाल का एक और गाना बिहार में बहुत लोकप्रिय है। और ये बस उनका भोजपुरी छठ गीत ही नहीं है ये बिहार के हर घर में माताजी गातीं हैं। और ये पारम्परिक छठ पूजा गीत है। सालों से हमारे घर में हम यही भोजपुरी छठ पूजा गीत सुनते आएं है।

मारबो रे सुग्वा धनुख से – Anuradha Paudval Bhojpuri chhath geet

अनुराधा पौडवाल का ही एक और छठ पूजा गीत मरबो रे सुग्वा धनुख से भी आपके मन को मोहने की क्षमता रखता है। ऐसा इसीलिए क्योंकि यह भोजपुरी छठ गीत भी हमलोग बचपन से सुनते आ रहें हैं।

केलवा के पात पर – Sharda Sinha Chhath Geet

मुझे याद है जब मैं छोटा बच्चा हुआ करता था तब पहिली बार इस गाने को सुना था और मैं यही खो गया था। क्या ही स्वर क्या ही इमोशन था इस छठ पूजा गीत में मजा ही आ गया था।

छठी मईया बुलाये – Vishal Mishra Chhath Geet

बॉलीवुड सुपरसिंगर विशाल मिश्रा द्वारा गाया गया छठी मईया बुलाये आपको रुलाने की क्षमता रखता है। इस गाने में इमोशन इतना भरा पड़ा है की इस गाने को सुनते वक्त आप कही खो से जाओग।

तो ये थे पांच छठ गीत जो आपके छठ पूजा को ख़ास बना सकता है। और कहा जाता है की “कौन कहता है ब्रेकअप हुर्ट्स, कभी छठ में घर से दूर रहके देखे है। तो दोस्तों यही था आज का आर्टिकल, उम्मीद है आपको पसंद आया हो। अगर हाँ तो इस आर्टिकल को अपना प्यार दीजिये और कमेंट में एक बार बोल कर जाईये जय छठी मईया

2 thoughts on “Bhojpuri Chhath Geet: बिहार के लोगों को घर बुलाना है तो उनको bhojpuri chhath geet सुना दीजिये”

Leave a Comment